आपको सुनकर बड़ा अजीब लगेगा लेकिन कभी- कभी खराब आदतें भी आपके लिए बेहतर परिणाम दे जाती हैं। हालाँकि हर मामले में यह असरदार हो जरुरी नहीं लेकिन स्वास्थ्य के कुछ मामलों में यह पूरी तरह सच है, आइए देखते हैं

Pic: aspirationpoint

ठंडे पानी से नहाना
सच कहा जाए तो एथलीट्स इन चीज को जानते हैं और इसका उपयोग भी करते हैं किंतु सामान्य रूप से यह माना जाता है कि ठंडे पानी से नहाना आप को बीमार कर सकता है। लेकिन सच्चाई यह है कि ठंडा पानी आपके ब्लड सरकुलेशन को बूस्ट करता है और एंटीऑक्सीडेंट लेवल को भी बढ़ाता है जाहिर तौर पर इसे आपका इम्यून सिस्टम इंप्रूव होता है और वेट लॉस भी होता है।

रोज नहीं नहाना
आप कहेंगे कि रोज नहीं नहाना एक गंदी आदत है, और इससे आपके शरीर से बदबू आती है। लेकिन सच यह है कि अगर आप रोज नहीं नहाते हैं तो आपके गुड बैक्टीरिया आपके शरीर को सॉफ्ट रखते हैं, जिससे आप के रिंकल्स भी हटते हैं और नेचुरल आयल आपके शरीर पर बना रहता है।

सोशल मीडिया यूज
सामान्य तौर पर इसे खराब माना जाता है लेकिन सोशल मीडिया इस्तेमाल करने से आपके पास फ्रेंडशिप बढ़ाने का और लोगों से कनेक्ट होने का खासा मिल समय मिलता है। वहीँ इससे आपको तनाव घटाने और अकेलेपन से निपटने में मदद भी मिलती है।

Pic: Viral Ventura

दोस्तों के साथ गॉसिप्स
इसका यह मतलब नहीं है कि आप हमेशा इधर -उधर की बातों में लगी रहें और दूसरे लोगों की नकल उतारें, किंतु दोस्ती के लिए गॉसिप्स एक बढ़िया अस्त्र है इससे दो लोगों के बीच में अच्छी बॉन्डिंग बनती है। इसके आलावा अगर बात हेल्थ की दृष्टि से करें तो स्ट्रेस और चिंता घटाने में इससे खासा मदद मिलती है।

देर से जगना

हालांकि इससे ट्रेडिशनल रूप से गलत माना जाता है किन्तु देर से जगने पर आपका हाई ब्लड प्रेशर कम होता है और हार्ट प्रॉब्लम्स की चांसेस भी कम होते हैं, इसीलिए कई बार आप अपने अलार्म क्लॉक को बंद करें और आराम से सोए।

Pic: eatthis

च्युंगम चबाना
कई लोगों के लिए यह बेहद फ्रस्ट्रेट करने वाली चीज होती है और कई लोग इसे पसंद नहीं करते हैं कि उनके सामने बात करने वाला व्यक्ति च्युंगम चबा रहा हो, लेकिन यह सच है कि च्युंगम स्ट्रेस घटाता है और आपकी याददाश्त को बढ़ाता है। इसके अतिरिक्त फोकस बढ़ाने और डिसीजन लेने की प्रक्रिया में सुधार करने में भी इसका खासा योगदान है।

तो देखा आपने आप की बुरी आदतें भी आपके लिए कई बार अच्छी साबित होती हैं तो जरा सोचिए की अच्छी आदतें आपके लिए कितनी अच्छी साबित हो सकती हैं। अगली बार अगर आपके पास कोई बुरी आदत है तो उससे परेशान होने की वजह है उससे मिलने वाले सकारात्मक संदेशों को समझें और उसमें सुधार करने की कोशिश करें। यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं।

Leave a comment