चाय के साथ आपने इसका स्वाद निश्चित ही लिया होगा। बचपन से बड़े होने की प्रक्रिया में मूंगफली का खासा योगदान रहा है। बाजार में मिलती हुई मूंगफली हर किसी की पसंदीदा होती है और मूड आपका कैसा भी हो मूंगफली उसे दुरुस्त कर देती है। आइए जानते हैं इस के बारे में अजब-गजब फैक्ट्स-

अंग्रेजी में मूंगफली को पीनट्स भी कहा जाता है तो कई लोग इसे नॉट्स यानी बादाम प्रजाति का मान बैठते हैं पर यह उस प्रजाति का नहीं है। वास्तव में यह फली है। जिस प्रकार से मटर होती है जिस प्रकार से सेम होती है उसी प्रकार से यह एक फली है। ऐसे में यह इसी प्रजाति में गिनी जाती है। यह कोई पेड़ पर नहीं उगती है बल्कि दूसरे फलियों की तरह यह जमीन में होती है जैसे सोयाबींस।

Pic: foodrevolution

पीनट बटर प्राचीन समय से ही काफी लोकप्रिय है। मॉडर्न एज में ही बात की जाए तो 1890 ई. के आसपास इसका मॉडर्न वर्जन सामने आया। पीनट बटर के बारे में आपको एक दिलचस्प बात यह भी बता दें कि तकरीबन 600 ग्राम पीनट से 350 ग्राम पीनट बटर तैयार होता है। पीनट बटर बनाने की एक खास विधि होती है जिसमें 90% से अधिक पीनट ही होना चाहिए। वहीं 10 परसेंट हिस्से में आपका नमक चीनी और थोड़ा तेल की मात्रा शामिल हो सकती है।

पीनट एलर्जी से बचाव का सबसे कारगर माध्यम है मूंगफली। दोनों सेम- सेम नाम होने से आप कंफ्यूज मत होइए। पीनट एलर्जी आपको खासा परेशान कर सकता है किंतु अगर बच्चों को आप शुरुआत में ही मूंगफली खिला रहे हैं तो वो बाद के दिनों में बेशक मूंगफली ना खाएं लेकिन पीनट एलर्जी से वो मुक्त रहेंगे। शोध बताते हैं कि इजरायल में सबसे कम पीनट एलर्जी के मामले सामने आते हैं।

Pic: thespruceeats

मूंगफली आपके लिए बेहद लाभदायक होती है। यह एंटीऑक्सीडेंट्स, न्यूट्रिएंट्स, मिनरल और विटामिंस का प्रमुख स्रोत होती है। गौरतलब है कि अमीनो एसिड और प्रोटीन आपकी डेवलपमेंट और ग्रोथ में काफी सहायक होते हैं।

अमेरिकन प्रेसिडेंट की पसंदीदा रही है मूंगफली। यह बड़ा रोचक तथ्य है कि जिमी कार्टर और थॉमस जेफरसन मूंगफली के बहुत बड़े फैन रहे हैं और पीनट फॉर्म्स में ही वह बड़े हुए हैं। यह भी दिलचस्प है कि जिमी कार्टर ने अपना बचपन गलियों में मूंगफली बेच कर बिताया था।

Pic: fishfaagri

तो कैसे लगे आपको यह फैक्ट्स जो मूंगफलियों से जुड़े हैं? जब आप मूंगफली खाते हैं तो आपको यह बातें याद रहती हैं? निश्चित तौर में इनमें से कई नई बातें आपको पता चली होंगी तो कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताएं कि हमारा यह लेख आपको कैसा लगा?

Leave a comment